X
  • Vasti

    Vasti

पृष्ठवस्ति

पृष्ठवस्ति:- इस प्रक्रिया में पीठ के स्पाइनल भाग को एक साथ घेरा बनाकर इसमें औषधि सिद्ध तैल को डालकर डुबाते हैं तथा उसका तापमान एक समान बनाये रखते हैं। योग्य - मन्या कशेरूक गतवात (Cervical Lumbar Spondylosis) पृष्ठशूल आदि रोगो में समय - 30-40 मिनट प्रतिदिन 08-16 दिन तक

Similar Products